rasayanik abhikriya kise kahate hain

हम रसायन शास्त्र में विभिन्न प्रकार के यौगिकों की जांच करते हैं। पूर्वगामी जिनसे कोई पदार्थ व्युत्पन्न होता है, यह निर्धारित करता है कि वह पदार्थ कैसे बनाया जाता है। अर्थात्, कोई भी उत्पाद जो एक प्रक्रिया के परिणामस्वरूप बनाया जाता है, उचित क्रम में बनाया जाता है। इस तरह की प्रक्रिया का वर्णन करने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला शब्द रासायनिक प्रतिक्रियाएं हैं। आज इस ब्लॉग के माध्यम से हम जानेगे की Rasayanik Abhikriya Kise Kahate Hain, रासायनिक समीकरण किसे कहते हैं? और इस तरह की अन्य जानकरी प्रदान की गयी है।

Rasayanik Abhikriya Kise Kahate Hain? 

एक रासायनिक प्रतिक्रिया एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके द्वारा दो या दो से अधिक रसायन, जिन्हें अक्सर अभिकारकों के रूप में जाना जाता है, एक नया उत्पाद बनाने के लिए गठबंधन करते हैं। प्रतिक्रिया द्वारा बनाए गए नए उत्पादों में उन अभिकारकों से अलग रासायनिक विशेषताएं होती हैं जिनसे वे बनाए गए थे। 

Rasayanik Abhikriya Kise Kahate Hain, यह जानने के बाद हम जानेगे की रासायनिक समीकरण किसे कहते हैं? और इसके प्रकार को हम विस्तार से जानेगे। 

रासायनिक समीकरण किसे कहते हैं?

रासायनिक समीकरण वे होते हैं जो रासायनिक प्रतिक्रिया में शामिल अभिकारकों और उत्पादों के प्रतीकों या आणविक सूत्रों का उपयोग करके बनाए जाते हैं।

उदाहरण के लिए: हाइड्रोजन + क्लोरीन = हाइड्रोजन क्लोराइड। H2 + Cl2 = 2HCl

यहाँ, एक हाइड्रोजन अणु और एक क्लोरीन अणु मिलकर हाइड्रोजन क्लोराइड के दो अणु उत्पन्न करते हैं।

विस्थापन अभिक्रिया किसे कहते हैं?

एक विस्थापन अभिक्रिया तब होती है जब एक अधिक क्रियाशील धातु अपने लवण से कम क्रियाशील धातु को हटा देती है और फिर उसे अपने साथ बदल लेती है।

उदाहरण के लिए, क्योंकि लोहा तांबे की तुलना में अधिक क्रियाशील है, यह कॉपर सल्फेट नमक से तांबे को विस्थापित करता है जब यह कॉपर सल्फेट के जलीय घोल के साथ जुड़ता है। समीकरण – इस प्रतिक्रिया को समझने में आपकी मदद कर सकता है।

उदाहरण के लिए: CuSO4 + Fe → FeSO4 + Cu

ऊष्माक्षेपी रासायनिक अभिक्रिया किसे कहते हैं?

ऊष्माक्षेपी रासायनिक अभिक्रिया वे होती हैं जिनमें दो या दो से अधिक अभिकारक एक नए उत्पाद के साथ ऊर्जा उत्सर्जित करते हैं। उसे ऊष्माक्षेपी रासायनिक अभिक्रिया कहते है। 

श्वसन एक ऊष्माक्षेपी रासायनिक अभिक्रिया है क्योंकि पूरी प्रक्रिया में ऊर्जा जारी होती है।

ऊष्माशोषी रासायनिक अभिक्रिया किसे कहते हैं?

ऊष्माशोषी रासायनिक प्रतिक्रियाएँ वे हैं जिनमें अभिकारकों से उत्पादों के निर्माण के लिए पहले कुछ ऊर्जा के व्यय की आवश्यकता होती है।

उदाहरण के लिए: 2H2O(aq) → 2H2(g) + O2(g)

इस रासायनिक अभिक्रिया में हमें  जल का अणु को तोड़ने के लिए ऊर्जा की आवश्यकता होती है।

उत्क्रमणीय रासायनिक अभिक्रिया किसे कहते हैं?

उत्क्रमणीय रासायनिक अभिक्रियाएँ वे होती हैं जो साम्यावस्था तक पहुँच चुकी होती हैं और जिनमें अभिकारकों से उत्पाद बनते हैं जबकि उसी समय उत्पादों से अभिकारक भी बनते हैं। इन प्रतिक्रियाओं में दोनों दिशाओं में जाने की क्षमता होती है।

उदाहरण के लिए: H2CO3 + H2O ⇌ HCO–3 + H3O+

अनुत्क्रमणीय रासायनिक अभिक्रिया किसे कहते हैं?

रासायनिक प्रक्रियाएँ जिनके परिणामस्वरूप अभिकारकों से उत्पादों का निर्माण होता है, लेकिन उत्पादों से अभिकारकों के निर्माण में परिणाम नहीं हो सकता है, उन्हें अनुत्क्रमणीय रासायनिक अभिक्रिया कहा जाता है।

उदाहरण के लिए: C3H8 + 5O2 → 4H2O + 3CO2

रासायनिक अभिक्रिया के आधार पर परिवर्तन

 यह परिवर्तन दो प्रकार के होते हैं –

भौतिक परिवर्तन (Physical Change)

भौतिक परिवर्तन वे हैं जो किसी पदार्थ के भौतिक गुणों जैसे रंग, तापमान, आयतन, पदार्थ की विभिन्न अवस्थाओं आदि को प्रभावित करते हैं। उदाहरण के लिए, यदि पानी को गर्म किया जाता है, तो यह तरल अवस्था से वाष्प अवस्था में बदल जाता है। लेकिन जब इस वाष्प को ठंडा किया जाता है तो यह फिर से द्रव अवस्था में आ जाता है। अतः इस प्रकार के परिवर्तन को भौतिक परिवर्तन कहते हैं।

रासायनिक परिवर्तन (Chemical change)

एक रासायनिक परिवर्तन वह है जिसमें अंतिम परिणाम को उसकी प्रारंभिक अवस्था में पुनर्स्थापित नहीं किया जा सकता है। एक रासायनिक बदलाव दूध से दही का निर्माण है। इसके अतिरिक्त नमी और वायु की उपस्थिति में लोहे में जंग लगना एक रासायनिक परिवर्तन है।

निष्कर्ष

इस ब्लॉग के माध्यम से हमने जाना की Rasayanik Abhikriya Kise Kahate Hain?, रासायनिक समीकरण किसे कहते हैं? और इसके प्रकार, और रासायनिक अभिक्रिया के आधार पर परिवर्तन जैसी अन्य जानकरी साझा की गयी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here