Ganga Nadi Kahan Se Nikalti Hai

अगर आप हरिद्वार गए हो तो आपके मन में कभी ना कभी विचार आया होगा की गंगा की शुरुवात कहा से होती होगी (ganga nadi kahan se nikalti hai), इसका उत्गम स्थान क्या हे तो आज के इस आर्टिकल में आपके यही जानने को मिलेगा।

गंगा नदी की शुरुआत कहां से हुई

लेकिन आर्टिकल की शुरुआत  से पहले जान लीजिये कि गंगा नदी कई नदियों से मिलकर बनती हैं। तो आइये आज की इस आर्टिकल में विस्तार से जानते हैं, कि गंगा किन नदियों से बनती है और कहाँ से आती है?

वास्तव में, भागीरथी नदी और अलकनंदा नदी, जो दोनों उत्तराखंड में उत्पन्न होती हैं, मिलकर गंगा नदी बनाती हैं। उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में, गंगोत्री ग्लेशियर और गौमुख ग्लेशियर क्रमशः भागीरथी और अलकनंदा नदियों के स्रोत हैं। भागीरथी और अलकनंदा नदियाँ मिलकर देवप्रयाग में गंगा नदी का निर्माण करती हैं। अलकनंदा नदी भागीरथी नदी में प्रवेश करने से पहले अन्य नदियों से मिलती है।

गंगा की सहायक नदियां

गंगा नदी प्रणाली, जो गंगा और उसकी सहायक नदियों से बनी है, भारत की सबसे लंबी नदी है। भारत की सबसे बड़ी नदी प्रणाली गंगा नदी प्रणाली है। और इस तंत्र में कई छोटी छोटी नदिया शामिल है, जैसे ( यमुना नदी, चम्बल नदी, रामगंगा नदी, शारदा नदी, करनाली नदी, गंडक नदी, कोसी नदी, महानन्दा नदी, सोन नदी, केन नदी, दामोदर नदी आदि) यह सारी नदिया गंगा की प्रमुख सहायक नदियाँ हैं।

गंगा नदी भारत के किन किन राज्यों और शहरों से होकर गुजरती हे ?

राज्यों: जैसा कि हमने अभी आपको बताया कि गंगा नदी का शुरुआत उत्तराखंड में होती है वहां से निकलने के बाद यह कुल 4 राज्य उत्तर- प्रदेश, बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल से होते हुए बंगाल की खाड़ी में मिल जाती हैं.

 शहरों: बंगाल की खाड़ी वह जगह है जहां गंगा नदी, जिसका स्रोत उत्तराखंड में है, समुद्र से मिलती है। देवप्रयाग, ऋषिकेश, हरिद्वार, कानपुर, प्रयाग, वाराणसी, गया, पटना और कोलकाता इन शहरों में से होकर गुजरती  हैं।

गंगा नदी की लम्बाई कितनी है?

अगर  हम मान के चले की गंगा नदी की शरुवात उत्तरकाशी  से निकलकर बंगाल की खाड़ी तक ख़तम होती हे, तो गंगा नदी कि कुल लम्बाई 2525 किलोमीटर तक है।

निष्कर्ष

तो आज हमने जाना की गंगा नदी कहा से निकलती है (ganga nadi kahan se nikalti hai) और हमने यह भी जाना की गंगा नदी किन किन राज्यों और शहरो से बहती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here