पंजाब पुलिस ने नकली मेडिसिन और सुई बनाने वाले एक गिरोह को गिरतार किया है। माना जा रहा है कि ये एक बड़ी सफलता है। आपको बता दें कि पंजाब पुलिस ने नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन बनाने वाले एक अंतरराज्यीय गिरोह का पर्दाफाश कर छह लोगों को अरेस्ट किया है। गिरफ्तार लोगों की शिनाख्त उत्तर प्रदेश के रहने वाले मोहम्मद शाहवार, अरशद खान, मोहम्मद अरशद, हरियाणा के प्रदीप सरोहा, पंजाब के मोहाली के रहने वाले शाह नजर और शाह आलम के रूप में हुई है। पंजाब के पुलिस महानिदेशक (DGP) दिनकर गुप्ता ने मीडियाकर्मियों से बात करते हुए कहा कि रूपनगर पुलिस प्रशासन ने इंजेक्शन की शीशियों को बनाने के लिए इस्तेमाल में आने वाली डिजाइन और पैकेजिंग सामग्री साथ में दो करोड़ रुपये की नकदी बरामद की है।

ADVERTISEMENT

साथ ही इस गिरोह के ठिकाने से उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब और चंडीगढ़ के रजिस्ट्रेशन नंबर वाली चार कारें जब्त की हैं। गौरतलब है कि ये रेमडेसिविर इंजेक्शन कोरोना वायरस (COVID-19) के उपचार में इस्तेमाल की जाती है। कोरोना वायरस के दूसरी लहर के समय इस इंजेक्शन मांग बहुत ज्यादा बढ़ गई थी। अभी भी विभिन्न राज्यों में अस्पतालों द्वारा इस इंजेक्शन की मांग की जा रही है। बढ़ी डिमांड को देखते हुए अपराधियों ने सांठ-गाँठ से नकली इंजेक्शन बनाये जाने का काम करने लगे। खबर ये है कि एक-एक नकली इंजेक्शन एक-एक लाख रुपए में बेंचा गया।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक एवं फॉलो करें तथा विस्तार से न्यूज़ पढने के लिए हिंदीरिपब्लिक.कॉम विजिट करें। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here