Afghanistan Crisis

Afghanistan Crisis : अफगानिस्तान में 20 साल तक लंबे युद्ध के बाद अमेरिका ने तालिबान द्वारा दिए गए  आखिरी डेडलाइन से पहले ही अफगानिस्तान छोड़ दिया है। अमेरिका के आखिरी विमान ने कल यहां से उड़ान भरी। अमेरिकी 31 अगस्त तक अपनी सारी सेना अफगानिस्तान से हटाने वाला था लेकिन तालिबान द्वारा दी गई डेडलाइन से पहले ही उसने देश में अपनी सेना को वापस बुला लिया है। अमेरिका के आखिरी विमान सी-17 ने 30 अगस्त की दोपहर को काबुल के हामिद करजई एयरपोर्ट से उड़ान भरी जिसके बाद अफगानिस्तान अमेरिकी सेना से मुक्त हो गया है।

ADVERTISEMENT

Afghanistan Crisis : अफगानिस्तान में हालात बेहद तनावपूर्ण 

अमेरिकी रक्षा विभाग ने ट्वीट किया कि अफगानिस्तान छोड़ने वाला आखिरी अमेरिकी सैनिक एवं मेजर जनरल क्रिस डोनह्यू, 30 अगस्त को सी-17 विमान में सवार हुए, जो काबुल में अमेरिकी मिशन के अंत का प्रतीक है। 20 साल बाद अफगानिस्तान से अमेरिका की वापसी के पूरा होने पर एएफपी की रिपोर्ट के मुताबिक पेंटागन ने स्वीकार किया कि वह काबुल से उतने लोगों को नहीं निकाल सका, जितनी उम्मीद थी। एएफपी ने पेंटागन के हवाले से कहा कि अमेरिकी सेना ने अफगानिस्तान छोड़ दिया है।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक एवं फॉलो करें तथा विस्तार से न्यूज़ पढने के लिए हिंदीरिपब्लिक.कॉम विजिट करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here