Beating Retreat Ceremony

Beating Retreat Ceremony : दिल्ली (Delhi) के विजय चौक (Vijay Chowk) पर बीटिंग रिट्रीट समारोह आयोजित हो रहा है। भव्य शो चल रहा है। बीटिंग रिट्रीट समारोह को गणतंत्र दिवस (Republic day) समारोह औपचारिक रूप से समाप्त हो जाता है। मिलिट्री बैंड (Military Band) ने बीटिंग रिट्रीट समारोह में समां बाँध दिया। बीटिंग रिट्रीट समारोह में पहली बार ‘ए मेरे वतन के लोगों, ज़रा आँख में भर लो पानी’ गूंजा। आज़ादी के बाद से अब तक इस समारोह में महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की पसंदीदा धुन बजती आ रही थी लेकिन इस बार ये परंपरा बदल गई।

ADVERTISEMENT

Beating Retreat Ceremony : क्या होता है बीटिंग द रिट्रीट समारोह 

बीटिंग रिट्रीट समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind), पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi), रक्षामंत्री राजनाथ सिंह मौजूद थे। इस बार कार्यक्रम में 10 मिनट का ड्रोन शो (Drone Show) रखा गया। भारत की तीनों सेनाओं और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (Central Armed Police Forces) के बैंड की अलग-अलग धुन बजाई जा रही है। इसने सभी का दिल जीत लिया।

बीटिंग रिट्रीट समारोह (Beating Retreat Ceremony) में में भारत के इतिहास को बेहतरीन अंदाज़ में बताया जा रहा है। बता दें कि भारत के गणतंत्र दिवस (Republic day) समारोह की समाप्ति का सूचक है-बीटिंग रिट्रीट। इस कार्यक्रम में थल सेना, वायु सेना और नौसेना के बैंड पारंपरिक धुन के साथ मार्च करते हैं। हर साल गणतंत्र दिवस के बाद 29 जनवरी की शाम को ‘बीटिंग द रिट्रीट’ (Beating The Retreat) कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है। दिल्ली स्थित रायसीना रोड (Raisina Road) पर राष्ट्रपति भवन (President’s House) के सामने इसका प्रदर्शन किया जाता है।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक एवं फॉलो करें तथा विस्तार से न्यूज़ पढने के लिए हिंदीरिपब्लिक.कॉम विजिट करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here