बीते कुछ दिनों में बिहार में कोरोना मरीजों कि संख्या में गिरावट आई है। लेकिन राज्य के मुख्यमंत्री नितीश कुमार बिहार में लगाये लॉकडाउन के सकरात्मक प्रभाव को देखते हुए उनकी सरकार एक बार पुनः विचार कर रही है  कि राज्य में एक सप्ताह के लिए लॉकडाउन को और बढाया जाए। मुख्यमंत्री का कहना है कि राज्य में लगे लॉकडाउन में जनता का भी काफी अच्छे से समर्थन मिला है। पुलिस बल ने भी पूरी सख्ती से लागु कराने में अपनी अहम भूमिका निभाई है इसी का नतीजा है कि बिहार में कोरोना संक्रमण दर में गिरावट दर्ज की गयी है। मुख्य्मंत्री ने बिहारवासियों से अपील करते हुए कहा कि इस से पूर्व में भी मैंने आपको संबोधित करते हुए लॉकडाउन को 25 मई तक विस्तृत करने की सुचना दी थी।

नितीश कुमार ने कहा कि अब भी दुनिया और देशभर के अन्य लोगों की तरह बिहारवासी भी कोरोना से लड़ रहे हैं। बिहार में जांच की संख्या बढ़ाई जा रही है। ग्रामीण क्षेत्रों के लिए चलंत आरटीपीसीआर जांच वैन को रवाना किया गया है। इससे कोरोना में जांच की गति और बढे़गी। होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों को विशेष निगरानी में रखा गया है। डॉक्टरों की टीम द्वारा उनके तापमान एवं शारीर में ऑक्सीजन लेवल का जायजा लिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने राज्यवासियों से अपील की है कि अभी हमे और सचेत एवं सतर्क रहना है। साथ ही उन्होंने अपील की कि राज्यवासी हमेशा इस बात का ख्याल रखे कि जब भी घर से निकले मास्क पहन कर निकलें, समय-समय पर हाथ धोते रहें एवं सामाजिक दुरी बना कर रखें और अपनी बारी आने पर टीका जरुर लगाये। कोरोना के खिलाफ एकमात्र बचाव है टीकाकरण, इसलिए टीका जरुर लगवाए। आपके और हम सबके संयुक्त प्रयास से हम कोरोना पर विजय जरुर प्राप्त कर लेंगे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here