आजकल की तनाव भरी जीवनशैली को स्वस्थ एवं खुशनुमा बनाने के लिए जरुरी नही कि आपको अपने दैनिक जीवन में बहुत बड़ा परिवर्तन करना पड़े। इसकी शुरुआत प्रतिदिन की महज दो-तीन आदतों से की जा सकती है और अपने स्वास्थ्य में सुधार लाया जा सकता है।

ADVERTISEMENT

सुबह की एक अलग दिनचर्या बनाएं

हमारे स्वास्थ्य का और हमारा भला करने वाली आदतों में से मुख्य रूप से होती हैं सुबह की दिनचर्या में शामिल आदतें। सुबह की आदतों में संतुलन लाना होता है। हो सकता है कि आपको प्रतिदिन सुबह टहलने जाना या ध्यान केन्द्रित करना या स्वस्थ नाश्ता पसंद हो। वह सब कुछ जो आपको सुपरचार्ज महसूस कराता है, सकरातम्कता का एहसास दिलाता है। अपनी उस आदत के साथ अपने दिन की शुरुआत करें। ये वो आदतें होनी चाहिए, जो आपको पसंद हों। जैसे, अच्छी किताबें पढ़ना, पॉडकास्ट सुनना, लिखना या व्यायाम करना। जब आपके पास सुबह की आदतों में कुछ उम्मीद वाला होता है, तो यह वास्तव में सुखद होता है। आप अधिक सकरात्मक और ऊर्जावान भी महसूस करते हैं। इससे तनाव व मानसिक परेशानियों को दूर करने में मदद मिलती है। अगर पता नहीं कहां से शुरू करें, तो प्रेरणा पाने के लिए कुछ सफल लोगों की सुबह की दिनचर्या अवश्य देखें।

नींद को प्राथमिकता दें,क्वालिटी नींद लें 

नेशनल स्लीप फाउंडेशन के अनुसार, किसी व्यक्ति के स्वास्थ्य और भलाई के लिए नींद आवश्यक है। ये नींद ही है, जो आपको अगले दिन के लिए अच्छी तरह तैयार करती है। क्वालिटी नींद के लिए जरूरी है कि आप सोने से लगभग एक घंटे पहले अपने मोबाइल,लैपटॉप की स्क्रीन से जरुर दूर हो जाएं। इसकी बजाय कुछ लिखना आपकी नींद में सुधार कर सकता है। आप अगले दिन की प्लानिंग भी किसी डायरी में लिख सकते हैं। इसके अलावा ‘मैं किसके लिए आभारी हूं’, इसका उत्तर लिखना भी मानसिक तनाव और थकान को दूर करने में मदद करता है।

कुछ मिनट का ध्यान कहीं भी लगाने का प्रयास करें 

यह सहनशक्ति और ऊर्जा प्राप्त करने का एक प्रभावी तरीका है। यह अभ्यास आपके दिमाग को अपने विचारों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए प्रशिक्षित करता है। एक अधयन्न के निष्कर्षों के अनुसार, ध्यान चिंता, अवसाद, तनाव जैसे मनोविकार को कम करने में मदद कर सकता है। और सबसे अच्छी बात यह है कि इसे कहीं भी किया जा सकता है। यह उतना ही आसान हो सकता है, जितना कि कुछ गहरी-गहरी सांसें लेना। दिन में जब भी तनाव महसूस हो, तो छोटे-छोटे अंतराल पर गहरी सांस लेने पर ध्यान केंद्रित करें, क्योंकि यह वर्तमान में रहने में मदद करता है और किसी भी ऐसे विचार से अलग होने में मदद करता है, जिससे नकारात्मकता आती है। अपने दैनिक जीवन में बस इन तीन आदतों को शामिल करें, बाकी चीजें अपने आप सही होने लगेंगी।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक एवं फॉलो करें तथा विस्तार से न्यूज़ पढने के लिए हिंदीरिपब्लिक.कॉम विजिट करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here