भारत में कोरोना महामारी की भयावह स्थिति के बीच अमेरिकी वैक्सीन निर्माता कंपनी फाइजर ने इसी साल भारत को अपने टीके का 5 करोड़ खुराक देने की बात, एक प्रेस रिलीज़ में कही है। इसके लिए निर्माता कंपनी ने भारत के लिए कुछ नियम एवं शर्तें भी रखी हैं। इसी बीच अमेरिका की एक अन्य कंपनी मॉडेर्ना का कोरोना वायरस का सिंगल डोज वाला टीका अगले साल तक भारत में उपलब्ध हो सकता है। इसके लिए वह भारतीय कंपनी सिप्ला तथा अन्य भारतीय दवा निर्माता कंपनियों से बातचीत कर रही है। अमेरिका की ही फाइजर कंपनी 2021 में ही पांच करोड़ खुराक उपलब्ध कराने को तैयार है लेकिन वह वेस्टे सहित कुछ अन्य नियम एवं शर्तों में बड़ी छूट चाहती है। हमारे सूत्रों ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

ADVERTISEMENT

वैश्विक और घरेलू बाजारों में टीके की पर्याप्त उपलब्धता को लेकर कैबिनेट सचिव की अध्यक्षता में पिछले सप्ताह कुछ हाई लेवल बैठकें हुईं। इनमें विदेश-मंत्रालय, नीति-आयोग, जैव-प्रौद्योगिकी विभाग, कानून मंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारीगण मौजूद थे। देश में कोरोना वायरस टीकाकरण अभियान में फिलहाल दो स्वदेशी टीकों कोवीशील्ड और कोवैक्सिन का प्रयोग किया जा रहा है। इस साल जनवरी में शुरू किये गये टीकाकरण अभियान के बाद से अब तक लगभग 20 करोड़ टीके की खुराक दी जा चुकी हैं। हालाँकि भारत ने रूस की स्पुतनिक वी वैक्सीन को भी मंजूरी दी है लेकिन अभी इसकी आपूर्ति बहुत ही सीमित संख्या में है, जोकि मांग के अनुरूप नही है।

समझा जाता है कि सिप्ला ने मॉडर्ना से 2022 में पांच करोड टीके की डोज की खरीद में दिलचस्पी दिखाई है। सिप्ला ने  भारतीय सरकार से इस डील में सहयोग मांगा है। स्वास्थ्य मंत्रालय से भी कहा गया है कि वह मॉडर्ना का टीका खरीदने में सिप्ला को हर संम्भव मदद दे। जहां तक फाइजर की बात है, इस अमेरिकी कंपनी ने भारत को पांच करोड़ टीके इसी साल उपलब्ध कराने का भरोसा दिया है। इसमें एक करोड़ टीके इस साल जुलाई में, एक करोड़ अगस्त में और दो करोड सितंबर तथा एक करोड़ टीके अक्टूबर में उपलब्ध कराये जायेंगे। कंपनी ने कहा है कि वह केवल भारत सरकार से बात करेगी और टीकों का भुगतान भारत सरकार द्वारा फाइजर इंडिया को करना होगा। खरीदे गये टीके का घरेलू स्तर पर वितरण करने का काम भारत सरकार को स्वयं करना होगा। एक अन्य सूत्र ने कहा है कि भारत को टीके की आपूर्ति के लिये फाइजर ने भारत सरकार से वेस्टेज का करार किए जाने की शर्त भी रखी है और इसके डाक्यूमेंट्स भी भेजे हैं। फाइजर के मुताबिक उसने संयुक्त राज्य अमेरिका सहित 116 देशों से वेस्टेज नियम एवं शर्तों के करार किये हैं। विश्व भर में फाइजर वैक्सीन की अब तक 14.7 करोड़ खुराक दी जा चुकी हैं। फिलहाल तक कहीं से भी किसी तरह के साइड इफ़ेक्ट की रिपोर्ट नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here