Jyotiraditya Scindia

Jyotiraditya Scindia : मध्य प्रदेश के भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) को नया नागरिक उड्डयन मंत्री नियुक्त किया गया है। बता दें कि पूर्व में उनके पिता माधवराव सिंधिया ने भी 1991 और 1993 के बीच पीवी नरसिम्हा राव के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के तहत नागरिक उड्डयन विभाग संभाला था। भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया उन प्रमुख नए चेहरों में शामिल हैं जिन्हें कल के कैबिनेट विस्तार में मोदी मंत्रिमंडल में मंत्री पद दिया गया है।

Jyotiraditya Scindia पिता के नक्शेकदम पर चल रहे हैं 

सूत्रों का कहना है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को नागरिक उड्डयन मंत्रालय इसलिए आवंटित किया गया क्योंकि भाजपा नेतृत्व का मानना ​​​​है कि नागरिक उड्डयन क्षेत्र को एक युवा चेहरे की जरूरत है। ज्योतिरादित्य सिंधिया इस क्षेत्र को गतिशील बनाने के लिए नई ऊर्जा और नए विचार लाएंगे और कोरोना महामारी के कारण पैदा हुयी नई समस्याओं को एवं उड्डयन क्षेत्र में विकास की गति को बढ़ाएंगे। मध्य प्रदेश से राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया पिछले साल कांग्रेस पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे।

इस से पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया यूपीए सरकार में केंद्रीय बिजली राज्य मंत्री एवं केंद्रीय वाणिज्य और संचार राज्य मंत्री थे। बता दें कि मई 2019 में दूसरे कार्यकाल के लिए पदभार संभालने के बाद से पीएम मोदी द्वारा कैबिनेट में यह पहला फेरबदल है। कैबिनेट में अहम् बदलाव से पहले मंत्रियों के साथ बैठक के माध्यम से पीएम मोदी और भाजपा के शीर्ष नेताओं द्वारा समीक्षा की गई थी।

ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने हार्वर्ड और स्टैनफोर्ड संस्थानों में शिक्षा हासिल की है। सिंधिया ने 2002 में कांग्रेस उम्मीदवार के रूप में अपना पहला चुनाव, गुना लोकसभा क्षेत्र उपचुनाव में लड़ा था। बता दें कि एक विमान दुर्घटना में उनके पिता माधवराव सिंधिया की अचानक मृत्यु के कारण यह उपचुनाव हुआ था। 2007 में, उन्हें यूपीए सरकार में शामिल किया गया और 2014 तक संचार, वाणिज्य और उद्योग और बिजली राज्य मंत्री के रूप में केंद्रीय मंत्रिमंडल का हिस्सा बने रहे। 2014 में, वह चौथी बार गुना से फिर से चुने गए, लेकिन 2019 के लोकसभा चुनावों में भाजपा के उम्मीदवार केपी यादव से हार गए।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक एवं फॉलो करें तथा विस्तार से न्यूज़ पढने के लिए हिंदीरिपब्लिक.कॉम विजिट करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here