बहुजन समाज पार्टी (Bahujan Samaj Party) सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर बड़ा निर्णय लिया है। मायावती ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) और उत्तराखंड (Uttarakhand) में विधानसभा चुनाव में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के साथ गठबंधन के किसी भी संभावना को नकारते हुए रविवार को दावा किया कि उनकी पार्टी दोनों राज्यों में अगले वर्ष के प्रारंभ में होने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) में अकेले ही चुनाव लड़ेगी। बसपा प्रमुख (BSP Chief) ने रविवार को एक के बाद एक ट्वीट के जरिये अपने स्पष्ट इरादे जाहिर किए।

मायावती ने आज रविवार को ट्वीट किया, मीडिया के एक न्यूज चैनल में कल से यह खबर चलाई जा रही है कि उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड में आगामी विधानसभा चुनाव में ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम (AIMIM) और बीएसपी (BSP) संयुक्त रूप से लड़ेगी। बसपा सुप्रीमो ने आगे कहा कि यह खबर पूर्णतः गलत, भ्रामक व तथ्यहीन है। इसमें जरा भी सच्चाई नहीं है तथा बहुजन समाज पार्टी इसका पुरजोर खंडन करती है। पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा, इस संबंध में पार्टी द्वारा फिर से यह स्पष्ट और साफ़ किया जाता है कि पंजाब को छोड़कर, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में अगले वर्ष के प्रारंभ में होने वाले विधानसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी (Bahujan Samaj Party) किसी भी अन्य पार्टी के साथ कोई भी गठबंधन करके नहीं लड़ेगी अर्थात् पार्टी अकेले ही लड़ेगी।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक एवं फॉलो करें तथा विस्तार से न्यूज़ पढने के लिए हिंदीरिपब्लिक.कॉम विजिट करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here