संघर्ष विराम की घोषणा के महज़ कुछ ही घंटों बाद, शुक्रवार को फिलिस्तीनियों और इजरायली पुलिसकर्मियों के बीच फिर से पूर्वी यरुशलम में मस्जिदों के एस्प्लेनेड में झड़प हुयी ,मस्जिद में नमाज़ की भीड़ इक्कठी हुयी थी जिसमे  फिलिस्तीनियों  ने भाग लिया था। वहां पर  तैनात इजरायली सुरक्षाबलों पर गोले दागे गए हैं। पुलिस प्रवक्ता मिकी रोसेनफेल्ड ने एक बयान में कहा, सैकड़ों लोगों ने अधिकारियों पर पत्थर और मोलोटोव कॉकटेल फेंके। इलाके में मौजूद पत्रकारों के मुताबिक पुलिस ने स्टन ग्रेनेड और रबर की गोलियों से जवाब दिया है।

यरुशलम शहर में, इस्लाम के लिए एक पवित्र स्थान है , जहां लगभग दो सप्ताह पहले, हिंसक दंगे हुए थे, जिसके कारण 2014 के बाद से इज़राइल और हमास के बीच हिंसा की सबसे खराब स्थिति उत्पन्न हुयी थी। हालाँकि रूस एवं अमेरिका की मध्यस्थता के बाद संघर्ष विराम की घोषणा दोनों देशों द्वारा की गयी है। हमास द्वारा नियंत्रित एन्क्लेव के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, गाजा पट्टी में 11 दिनों के लिए इजरायली हमले में मरने वालों की संख्या 232 थी, जिसमें 65 बच्चे शामिल थे। इस्राइल में दो नाबालिगों समेत 12 लोगों की मौत हो गई है। स्थिति काफी तनावपूर्ण बनी हुयी है।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक एवं फॉलो करें तथा विस्तार से न्यूज़ पढने के लिए हिंदीरिपब्लिक.कॉम विजिट करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here