What is Nowruz and why is it celebrated

What is Nowruz and why is it celebrated : आज पारसी समुदाय नवरोज (Nowroz Festival) मना रहा है। ‘नवरोज’ पारसी लोगों का नववर्ष माना जाता है। नवरोज का अर्थ ईरानी कैलेंडर के पहले महीने का पहला दिन होता है। खबरों की मानें तो नवरोज मनाने की परंपरा करीब 3000 साल पहले शुरू हुई थी। पारसी समुदाय (Parsi community) के नववर्ष को पतेती, जमशेदी नवरोज और नवरोज जैसे कई नामों से पहचाना जाना जाना जाता है।

ADVERTISEMENT

What is Nowruz and why is it celebrated : आइए जानते हैं आखिर कैसे हुई इसे मनाने की शुरूआत

नवरोज, फारस के राजा जमशेद (King Jamshed of Persia) की याद में मनाते हैं। कहा जाता है कि करीब तीन हजार साल पहले पारसी समुदाय (What is Nowruz) के एक योद्धा जमशेद ने पहली बार इस पारसी कैलेंडर (Parsi Calendar) की स्थापना की थी। ग्रेगोरी कैलेंडर (Gregorian Calendar) के अनुसार, नवरोज वसंत ऋतु में मनाया (Navroz is celebrated in spring) जाता है, जब दिन और रात बराबर होते हैं इस दिन घर की साफ-सफाई कर घर के बाहर रंगोली बनाई जाती है।

नवरोज के दिन पारसी परिवार के सभी सदस्‍य सुबह जल्‍दी उठकर तैयार हो जाते हैं। पारसी लोग इस दिन इस दिन खास पकवान बनाते हैं, जिन्हें वह अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के (What is Nowruz and why is it celebrated) साथ बांटते हैं। इसके अलावा वो इस दिन एक-दूसरे के प्रति सहयोग और प्रेम  व्यक्त  करने के लिए आपस में उपहार भी बांटते हैं।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक एवं फॉलो करें तथा विस्तार से न्यूज़ पढने के लिए हिंदीरिपब्लिक.कॉम विजिट करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here